Connect with us

BIHAR

पटना PMCH के मरीजों के लिए खुशखबरी, जुलाई से लोकनायक गंगा एक्सप्रेस-वे हो जाएगा चाल

Published

on

इसी वर्ष जुलाई से लोकनायक गंगा पथ एक्सप्रेसवे का फायदा पीएमसीएच के रोगियों को मिलने लगेगा। पीएमसीएच से गंगापथ को जोड़ने हेतु अलग से लेन बनाने का काम तकरीबन 80 प्रतिशत पूर्ण हो गया है। लेन निर्माण के लिए पाये भी बन गए हैं और इन पर गार्डर चढ़ाने का काम तीव्र गति से जारी है। साइट पर काम कर रहे इंजीनियर बताते हैं कि इसी माह गार्डर चढ़ा कर उसपर सड़क बनाने का कार्य आरंभ हो जाएगा। जून के आखिर तक सड़क निर्माण पूर्ण करने के बाद जुलाई से इसे पीएमसीएच से जोड़ दिया जाएगा।

राजेंद्र सर्जिकल ब्लॉक के पास से होते हुए अशोक राजपथ से जुड़ेगा। वहीं गंगा एक्सप्रेस वे पीएमसीएच में राजेंद्र सर्जिकल ब्लॉक के निकट से गंगा एक्सप्रेस वे को अशोक राजपथ से कनेक्टिविटी दी जाएगी। अशोक राजपथ से जोड़ने हेतु पीएमसीएच के राजेंद्र सर्जिकल ब्लॉक के पास वाले हिस्से को ध्वस्त कर समतल बना दिया गया है।

आने वाले समय में इसके पास मल्टी लेवल पार्किंग निर्माण का भी प्लान है। अशोक राजपथ से जुड़ने के क्रम में पीएमसीएच के कुछ और पुराने हिस्से को ध्वस्त करना होगा, जिसपर शीघ्र ही काम शुरू होगा।

गंगा एक्सप्रेस वे से पीएमसीएच के जुड़ जाने से रोगियों को अस्पताल पहुंचने में जाम की समस्या से जूझना नहीं पड़ेगा। इन दिनों अशोक राजपथ पर मेट्रो परियोजना का काम जारी है, इसके वजह से रोजाना घंटों जाम की समस्या से लोग पूछते रहते हैं और रोगियों को अस्पताल पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

पीएमसीएच जाने वाले मरीजों को एएन सिन्हा इंस्टीट्यूट के बगल से अंडरपास पार कर गंगा एक्सप्रेस वे पर चढ़कर फिर वे वहां से डायरेक्ट पीएमसीएच पहुंच जाएंगे। आने वाले दिनों में गंगा एक्सप्रेस वे का विस्तार होने पर इसके आधा किलोमीटर आगे कृष्णाघाट पर अंडरपास और अन्य सिस्टम का निर्माण होगा, जिसे गुजर कर पेशेंट पीएमसीएच पहुंचेंगे।

उत्तर बिहार से पीएमसीएच में एडमिट होने वाले रोगियों को भी गंगा एक्सप्रेस वे के चालू होने से काफी फायदा होगा। वे जेपी सेतु पार करेंगे और रोटरी से गोलंबर के रास्ते डायरेक्ट गंगा एक्सप्रेस वे पर चढ़ जाएंगे। जेपी सेतु से गंगा एक्सप्रेस पर चढ़ जाने के बाद पीएमसीएच पहुंचने के लिए महज 7.5 किलोमीटर की डिस्टेंस कवर करना होगा।

विश्वस्तरीय स्तर का अस्पताल बनाने के क्रम में पीएमसीएच के निर्माण में कोई बाधा उत्पन्न ना हो, इसके लिए पीएमसीएच का मुख्य गेट को बंद करने का फैसला लिया गया है। गेट बंद करने की तारीख निर्धारित नहीं हुई है। लेकिन यह कहा गया है कि एंट्री के लिए अब सब्जीबाग और मखनिया कुआं वाला गेट खोला जाएगा।

बिहार सरकार के पथ निर्माण विभाग के मंत्री नितिन नवीन ने कहा है कि जुलाई तक पीएमसीएच को गंगा एक्सप्रेस वे की सुविधा मिलने लगेगी। इस प्रोजेक्ट पर 24 घंटे काम जारी है।‌ गंगा एक्सप्रेस वे की दीघा से पीएमसीएच तक की सड़क को आमजनों के लिए खोला जाएगा। रोजाना इसकी समीक्षा हो रही है।

Trending