Connect with us

BIHAR

बिहार के सरकारी कर्मियों को सरकार की सौगात, 3 प्रतिशत बढ़ा महंगाई भत्ता, कैबिनेट ने दी मंजूरी।

Published

on

सरकारी नौकरी करने वालों को बिहार सरकार ने बड़ी सौगात दी है। सरकार में सरकारी सेवकों के महंगाई भत्ते में 3 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है। अब तक राज्य के कर्मियों को 31 प्रतिशत महंगाई भत्ता मिल रहा था। 3 प्रतिशत बढ़ोतरी होने के बाद अब इन्हें 34 प्रतिशत महंगाई भत्ता प्राप्त होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के प्रस्ताव को स्वीकृति मिली। बैठक में टोटल 14 प्रस्ताव पर मुहर लगी।

मंत्रिमंडल की बैठक संपन्न होने के बाद कैबिनेट के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने जानकारी दी कि 1 जनवरी 2022 से राज्य कर्मियों को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता प्राप्त होगा। सरकार के नई घोषणा से चार लाख से अधिक कर्मचारी और साढ़े तीन लाख पेंशन धारियों को फायदा होगा। इस प्रस्ताव को हरी झंडी मिलने के बाद सालाना सरकार को 1133 करोड़ रुपये का एक्स्ट्रा लोड बढ़ जाएगा।

संकेतिक चित्र

सूबे के अफसरों और कर्मचारियों की चिकित्सा प्रतिपूर्ति के मंत्रिमंडल ने अनुमान्य रोगों में आठ नए बिमारियों को शामिल किया है। जिन आठ नई बीमारियां को शामिल किया गया हैं उनमें रूमेठी गठिया, मस्तिक पक्षघात, पार्किंसन रोग, क्रोनिक डिजीज, अतिगलग्रंथिता, सोरायसिस, लाइकेन प्लानस और पेल्विक इंफ्लमेट्री डिजीज है।

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार की सहमति के बाद राज्य में फिल्म कश्मीर फाइल्स को 16 मार्च 2022 से टैक्स मुक्त किया गया था। सोमवार को इस प्रस्ताव को मंत्रिमंडल ने भी स्वीकृत कर दिया है। वित्त विभाग के प्रस्ताव के बाद मंत्रिमंडल ने बिहार आकस्मिकता निधि जो 350 करोड़ थी। उसे 23 मार्च 2023 तक के लिए अस्थायी तौर पर बढ़ाकर 9500 करोड़ रुपये करने की स्वीकृति दे दी है।