Connect with us

BIHAR

दानापुर की बदलेगी सूरत, 240 करोड़ से नगर परिषद क्षेत्र का होगा विकास

Published

on

मुख्य पार्षद ने वित्तीय साल 2022-23 का दो लाख 96 हजार 610 रुपये के लाभ का बजट पास हुआ, जो ध्वनि मत से पारित हुआ। बजट में आय 240 करोड़, 81 लाख, 47 हजार 380 रुपये और व्यय 240 करोड़, 78 लाख, 50 हजार 777 रुपये खर्च करने का प्रस्ताव पारित हुआ है। इसके अलावा ओल्ड एज होम खोलने के लिए समाज कल्याण विभाग को अनुरोध पत्र देने का प्रस्ताव है।

पर्षद के सभी वार्डों में मोहल्ला क्लिनिक खोलने हेतु दो करोड़ 40 लाख रुपए का प्रावधन किया गया है और तमाम वार्डों में वार्ड दफ्तर खोलने के लिए 1.20 करोड़ का प्रावधान किया गया है। बता दें कि एक ही भवन में मोहल्ला क्लिनिक व वार्ड कार्यालय रखने का प्रस्ताव है।

जलजमाव से छुटकारा पाने के लिए नए बरसाती बड़ा नाला बनाने को लेकर 18 करोड़ 80 लाख रुपए राशि किया गया है। जलजमाव, बरसाती नाला उड़ाही के लिए पारित बजट में पांच करोड़ पचास लाख व छोटा नाले की उड़ाही व मरम्मत हेतू 72 लाख व संप हाउस बनाने के लिए दस करोड़ का बजट है।

सभी वार्डों में सड़क व गली पक्कीकरण हेतु 33 करोड़ व अन्य सड़क पुल पुलिया बनाने पर एक करोड़ चालीस लाख व रखरखाव के लिए दो करोड़ 28 लाख 10 हजार का प्रविधान किया गया। कुआं व तालाब के जीर्णोंद्वार व चापाकल पंप की मरम्मती हेतु एक करोड़ 25 लाख व स्लम एरिया उत्थान हेतु उसके रख रखाव पर बजट में 3 करोड़ 50 लाख व स्लम एरिया के आम नागरिकों के आवासन के लिए बहुमंजिला इमारत निर्माण पर 10 करोड़ का प्रविधान किया गया।

बजट में डोर-टू-डोर कचरा उठाव हेतु 16 करोड़ 57 लाख व पर्व त्योहार का प्रबंध व स्वच्छता पर 3 करोड़ 30लाख का प्रविधान किया गया। कचरा निष्पादन व अन्य कार्य हेतु भाड़े के गाड़ी के लिए 5 करोड़, स्ट्रीट लाइट व विद्युत व्यय में 8 करोड़ 15 लाख, स्वच्छ भारत मिशन के तहत कोई घर शौचालय से विहीन न हो व पर्षद को स्वच्छ व सौंदर्यीकरण हेतु 13 करोड़ 75 लाख और सामुदायिक शौचालय व अतिरिक्त चलंत शौचालय बनाने के लिए बजट में तीन करोड़ 80 लाख का प्रविधान किया गया।

डंपिग ग्राउंड के रखरखाव हेतु 55 लाख, स्लम बस्ती के निर्धन लोगों के घर बनाने पर 20 करोड़, वेंडिग जोन बनाने के लिए दो करोड़, कुड़ेदान खरीदने के लिए पांच करोड़ पांच लाख व अन्य जरूरी यंत्र के लिए 50 लाख का प्रविधान किया गया। गाड़ी खरीदने के लिए पांच करोड़ पचास लाख, कोविड से बचाव करने के लिए तीस लाख व रोड़ा राबीस के लिए दो करोड़ 55 लाख का प्रविधान किया गया।

Trending