Connect with us

BIHAR

अररिया जिले में बेहतर और सुदृढ़ होगी स्वास्थ्य व्यवस्था, अब 300 बेड का होगा सदर अस्पताल

Published

on

अररिया जिले के स्वास्थ्य सेवाओं की सूरत बहुत ही जल्द बदल जाएगी। सभी सुविधा युक्त के साथ सदर अस्पताल 300 बेड के अस्पताल में बदलने वाला है। आधुनिक पार्किंग, इमरजेंसी वार्ड, इंडोर, आउटडोर, लैब सहित तमाम जरूरी सुविधा अस्पताल में एक ही छत के नीचे मिलेगी। हॉस्पिटल कैंपस में इसके लिए 85 करोड़ रुपए की लागत से अत्याधुनिक तीन मंजिला भवन का निर्माण कार्य जारी है। गत दो महीने से जोरों-शोरों से कार्य चल रहा है। बीएमाइसीएल को भवन निर्माण का जिम्मा सौंपा गया है। अगले साल यानी 2023 के फरवरी माह तक निर्माण कार्य कंपनी को पूरा कर लेना है।

अस्पताल सूत्रों द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक, नई इमारत कई सारी अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित होगी और रोगियों को उपचार के लिए दूसरे जिलों के अस्पताल में जाने से मुक्ति मिल जाएगी। बता दें कि मौजूदा समय में मात्र 100 बेड ही सदर अस्पताल में मौजूद है‌।

प्रतीकात्मक चित्र

हालांकि शुरुआत से ही सदर अस्पताल के लिए सरकार ने 300 बेड स्वीकृत किया गया है। इमारत ना होने की वजह से केवल 100 बेड ही अस्पताल में मौजूद है। कोविड के समय बेड के अभाव में इलाज के लिए रोगियों को दर-दर भटकना पड़ा था। रोगियों को एडमिट करने के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा था।

बता दें कि अस्पताल का बिल्डिंग ना होने के वजह से इन दिनों बच्चा वार्ड, लेबर रूम,इमरजेंसी रूम में भी पेशेंट्स को काफी फजीहत झेलनी पड़ती है। सरकार के आये दिन नए वार्ड निर्माण करने के आदेश के साथ ही अस्पताल प्रबंधन एक ही वार्ड बार-बार नया नामकरण कर आदेश का पालन करता नजर आता है। वहीं नए भवन के निर्माण कार्य शुरू होने से सदर अस्पताल के अधिकारियों व कर्मियों के चेहरे की रौनक बढ़ा दी हैं।