Connect with us

BIHAR

बिहार के इन 10 जिलों में बनेंगे सड़क और पुल, खर्च होंगे 822 करोड रुपए, देखें बनने वाले सड़क और पुलों की सूची

Published

on

बिहार सरकार के कैबिनेट की बैठक में सड़क और पुल निर्माण के लिए 822 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी गई। इसके लिए नाबार्ड से कर्ज मिल सकेगा। पुलों के निर्माण के लिए टोटल 103.42 करोड़ की मंजूरी दी गई है, जिनमें 71.31 करोड़ रुपए का कर्ज मिलेगा। इस राशि से 10 जिलों में पुल बनाए जाएंगे।

बता दें कि सारण में चैनमा-चैनपुर सड़क, गोपालगंज में सीवान-बड़हरिया-सरफरा सड़क, आरा में आरा-सलेमपुर व आरा-सासाराम सड़क, रोहतास जिले में नासीरगंज बाजार भाग सड़क, सासाराम-तिलौथू सड़क, अमरा तालाब सड़क, जहानाबाद जिले में मखदुमपुर-सोनवां-हुलासगंज सड़क, पटना में बाढ़ शहरी-सरमेरा सड़क, सीवान में बदरजीमी-कैलगर सड़कों का निर्माण होगा।

प्रतीकात्मक चित्र

वहीं, कटिहार में बेलोरी बाजार- सोनैली बाजार सड़क, दरभंगा में ननोरा-मोहम्‍मदपुर सड़क, कदवा प्रखंड मुख्‍यालय से चौकी सड़क, बस्‍तौल-कुसियारी-सोनैली सड़क, मधुबनी में रहिका-बेनीपट़टी-पुपरी सड़क, गया में डुमरिया-इमामगंज-बांके और बाजार-करमैन-मोड़-गुरुआ-मथुरापुर गुरारु-अहियापुर-टेकारी-मानीकपुर सड़क व खजौली-बसोपटटी-हरलाखी सड़क का निर्माण होना है।

नीतीश सरकार के पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने जानकारी दी कि गंगा पथ के नुरुद्दीन घाट से धर्मशाला घाट तक लगभग 2.9 किमी लंबाई में गंगा के कटाव के वजह से एट ग्रेड सड़क का निर्माण करना मुश्किल था। वहां लगभग 470 करोड़ रुपए की राशि खर्च कर एलिवेटेड सड़क बनेगी। मंत्री ने कहा कि राज्‍य में सड़कों का जाल बिछाने व पुल का निर्माण करने को लेकर संसाधन जुटाने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

पथ निर्माण मंत्री ने बताया कि कि नाबार्ड के साथ गत तीन-चार महीने में उनके द्वारा मीटिंग कर इन प्रोजेक्ट के लिए संसाधन जुटाने की कोशिश की गई। आगे भी कई योजनाएं लंबित हैं। पथ निर्माण विभाग सरकार के संसाधन और अन्‍य वित्तीय संस्‍थाओं से सहयोग लेकर योजनाओं को पूरा करने का काम कर रही है। नितिन नवीन ने सीएम नीतीश कुमार का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि पथ निर्माण विभाग द्वारा मुख्‍यमंत्री के संकल्‍प को पूरा करने के लिए तमाम आवश्‍यक कार्य तीव्र गति से किये जा रहे हैं।