Connect with us

BIHAR

पटना के पार्कों में मिलेगी अस्पताल जैसी सुविधाएं, मुफ्त में होगी गंभीर बिमारियों की जांच और मिलेगा दवा

Published

on

डायबिटीज, हाइपरटेंशन, मोटापा व किडनी से संबंधित मरीजों के कसते शिकंजे के मद्देनजर पार्कों में ही अस्पताल जैसी सुविधाएं देने का फैसला स्वास्थ्य विभाग ने लिया है। सेहत एक्सप्रेस के माध्यम से 15 मार्च से 13 अप्रैल तक प्रत्येक दिन छह पार्कों में सुबह छह से आठ बजे तक फ्री स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया जाएगा। प्रत्येक टीम में एक चिकित्सक, नर्स, लैब टेक्नीशियन व योग्य ट्रेनी रहेंगे।

पार्कों में टहलने आए लोगों की समस्याओं पर न केवल सलाह देंगे बल्कि वजन, बीपी, शुगर, एचबीए1सी, सीबीसी, लिपिड, लिवर, थायराइड व किडनी प्रोफाइल की जांच आदि भी करेंगे। रिपोर्ट के अनुसार रोगियों को दवाई भी मुहैया कराई जाएगी। इस बाबत राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह ने पटना नगर निगम के आयुक्त और सिविल सर्जन को तैयारी शुरू करने के आदेश दिए हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

कार्यपालक निदेशक के मुताबिक, नगर निगम के अलग-अलग ब्लॉक में स्थित पार्क में रोजाना बड़ी संख्या में सुबह के समय लोग टहलने, कसरत करने व योग करने आते हैं। छह पार्कों में रोजाना सुबह छह से आठ बजे तक सेहत एक्सप्रेस की टीम की नियुक्ति की जाए, जो फ्री में चिकित्सीय सलाह के साथ जरूरी स्वास्थ्य की जांच करें। इससे समय के अभाव में नियमित रूप से जांच नहीं कराने के वजह से गंभीर परिणामों से लोगों को बचाया जा सकेगा। जिन चिकित्सकों और कर्मचारियों को सेहत एक्सप्रेस की टीम में शामिल किया जाएगा, उन्हें अपने रोजाना के कार्य अवधि से दो घंटे की छूट का प्रावधान है।

राजधानी के जिन पार्कों में सेहत एक्सप्रेस की टीम तैनात रहेगी उसमें एनर्जी पार्क, शिवाजी पार्क, ईको पार्क गेट नंबर 1, पटना जू गेट नंबर 1, चिल्ड्रेन पार्क और अदालत गंज तालाब शामिल है। सात-सात दिन के प्लान में इन शिविरों का विभिन्न पार्कों में आयोजन किया जाएगा।

सिविल सर्जन डॉ. विभा कुमारी ने जानकारी दी कि जिस इलाके के पार्क में सेहत एक्सप्रेस स्वास्थ्य शिविर लगाएगी उसे संबंधित अस्पताल में ही स्वास्थ्य संबंधी जांच लोग करा सकेंगे। इसके अनुसार ही दवाई भी उपलब्ध कराया जाएगा। किन पार्कों में सुबह के समय स्वास्थ्य शिविर का आयोजन होगा, इसके निर्धारण की जिम्मेदारी नगर निगम को दी गई है। शिविर के दौरान नगर निगम के तीन कर्मी व एक नोडल अधिकारी को बहाल किया जाएगा।

Trending