Connect with us

CAREER

बिहार के युवाओं को मिलेगी नौकरी, हर जिले में सरकार खोलेगी मेगा स्किल सेंटर

Published

on

नीतीश सरकार ने राज्य बजट 2022-23 में कई बड़े ऐलान किए हैं। कृषि सेक्टर से लेकर शिक्षा के क्षेत्र तक विकास के लिए बजट में प्रावधान किया गया है। इसी क्रम में राज्य के युवाओं को कौशल विकास और ट्रेनिंग देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से सरकार सभी जिलों में मेगा स्किल सेंटर की स्थापना करेगी। सेंटर में युवाओं को 90 तरह के ट्रेडों का ट्रेनिंग दिया जाएगा। पहले फेज में जिन तीन जिलों में मेगा स्किल सेंटर खोले जाएंगे, उसमें पटना, नालंदा और दरभंगा शामिल हैं।

विधानमंडल में सोमवार को उप मुख्यमंत्री सह वित्त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने बजट पेश किया जिसमें मेगा स्किल सेंटर खोलने की बात कही गई। स्किल सेंटर खोलने के ऐलान से काफी हद तक बेरोजगारों को रोजगार पाने में सहायता मिल सकेगी। स्किल सेंटर में अलग-अलग तरह की तकनीकी प्रशिक्षण के माध्यम से युवाओं को कमाऊ के लिए ट्रेंड किया जाएगा। राज्य के हर जिले में श्रम संसाधन विभाग द्वारा मेगा स्किल सेंटर खोलने का प्लान है। इन केंद्रों पर प्रत्येक साल 2000 से ढाई हजार युवाओं को ट्रेंड किया जाएगा।

बता दें कि इन केंद्रों पर एग्रीकल्चर, एयरोस्पेस एंड एविएशन, कृषि, कपड़ा, ऑटोमोटिव, कैपिटल गुड्स, निर्माण, इलेक्ट्रॉनिक्स व हार्डवेयर, खाद्य प्रसंस्करण, ग्रीन जॉब्स, हैंडीक्रॉफ्ट्स, हेल्थकेयर, आयरन एंड स्टील, माइनिंग, पावर, रबर, टेलकम, टेक्सटाइल्स से जुड़े 90 किस्म के रोजगार के कोर्स उपलब्ध होंगे। छात्रों को शॉर्ट टर्म कोर्स के तहत कम से कम 300 घंटे और अधिकतम 1500 घंटे ट्रेनिंग दिया जाएगा। प्राइवेट कंपनियों के हाथों इन केंद्रों के संचालन की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी। बताते चलें कि कई बच्चे पॉलिटेक्निक व आईटीआई के प्रवेश से वंचित रह जाते हैं। ऐसे बच्चों को मेगा स्किल सेंटर पर प्रशिक्षित किया जाएगा और उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने हेतु दक्ष बनाया जाएगा।