Connect with us

BIHAR

पीएमसीएच आने वाले मरीजों के लिए अच्छी खबर, गंभीर रोगियों को मिलेगी ये विशेष सुविधाएं

Published

on

बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (पीएमसीएच) में इलाज कराने आ रहे रोगियों के लिए गुड न्यूज़ है। निजी अस्पतालों के तरह ही मरीजों को इमरजेंसी वार्ड में सुविधाएं मिलेंगी। अस्पताल के अधीक्षक डॉ. आईएस ठाकुर ने शुक्रवार को न्यू मेडिकल इमरजेंसी वार्ड का शुभारंभ किया। आईएस ठाकुर ने कहा कि नये इमरजेंसी वार्ड में टोटल 73 बेड हैं जिनमें यूरोलॉजी, हार्ट अटैक, ऑर्थोपेडिक्स, सर्जरी, प्लास्टिक सर्जरी जैसे गंभीर मरीजों का उपचार किया जाएगा। इसके साथ ही चार नए मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर का भी शुभारंभ किया गया, यहां सभी किस्म के गंभीर मरीजों का ऑपरेशन होगा।

नए इमरजेंसी वार्ड को पूरी तरह से वातानुकूलित तैयार किया गया है। सभी बेड इलेक्ट्रिक है। चिकित्सक और नर्सों के बैठने के लिए अलग से व्यवस्था है। इसके अलावा ड्रेसिंग रुम, इसीजी रूम आदि अलग-अलग बनाए गए हैं। मौजूदा समय में टाटा वार्ड में चल रही इमरजेंसी के सभी रोगियों को न्यू इमरजेंसी वार्ड में शिफ्ट करने का काम जारी है। देर रात तक 40 से अधिक मरीजों के एडमिट होने की खबर है। वहीं टाटा वार्ड को कोविड वार्ड में बदल दिया जाएगा। यहां अब कोविड पेशेंट का उपचार किया जाएगा‌। शुभारंभ के अवसर पर उपाधीक्षक डॉ. अशोक कुमार झा, डॉ. अभिजित सिंह व हॉस्पिटल के वरीय चिकित्सक मौजूद थे।

Hu

उधर, शनिवार से राजधानी के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में ओपीडी में प्रत्येक दिन 150 रोगियों का उपचार किया जाएगा। संस्थान के निदेशक डॉक्टर विभूति सिन्हा के नेतृत्व में आयोजित बैठक में यह फैसला लिया गया। अस्पताल के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ मनीष मंडल ने जानकारी दी कि जनवरी में कोविड को देखते हुए ओपीडी में मरीजों का इलाज बंद कर दिया गया था। उन्होंने बताया कि सुपर स्पेशियालिटी विभाग में 150 और बाकी विभाग में सभी रोगियों का उपचार किया जायेगा।

Trending