Connect with us

BIHAR

पटना के एलएनजेपी अस्पताल में फ्री में होगी महंगी जांच, अत्याधुनिक सुविधाओं से किया गया लैस।

Published

on

हड्डी रोग के लिए मशहूर राजधानी के एलएनजेपी अस्पताल को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस कर दिया गया है। रोजाना यहां उपचार कराने वाले मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। रोगियों की संख्या को देखते हुए इसका विस्तार जारी है। वहीं स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने दो करोड़ की लागत से बने लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर एस अत्याधुनिक प्रयोगशाला का शुभारंभ किया है।

रोगी सभी तरह की महंगी जांच अस्पताल में फ्री में करवा सकेंगे। स्टैंडर्ड चार्टड बैंक और केयर इंडिया के मदद से इस प्रयोगशाला का निर्माण हुआ है। इस मौके पर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक और बिहार चिकित्सा सेवा एवं इंफ्रास्ट्रक्चर निगम लिमिटेड (बीएमएसआईसीएल) के प्रबंध निदेशक संजय कुमार सिंह व एलएनजेपी अस्पताल के निदेशक सुभाष चन्द्रा और संबंधित संस्थाओं के अधिकारी मौजूद थे।

बता दें की हड्डी रोग के लिए प्रसिद्ध एलएनजेपी अस्पताल में पहले 10 बेड की ही व्यवस्था थी। अब इसमें वृद्धि करके 104 बेड और ट्रॉमा सेंटर में 30 बेड की व्यवस्था कर दी गई है। यह संख्या पहले के मुकाबले 13 गुना अधिक है। अब अस्पताल का विस्तार भी किया जाएगा। बेड क्षमता को 400 तक किया जाएगा। पूर्व में यहां सिर्फ 4 डॉक्टर थे लेकिन अब यह संख्या दस गुना बढ़ाकर 43 कर दी गई है। साथ ही अब अस्पताल को अब अस्पताल को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस विश्व के मॉड्यूलर ओटी में शामिल हैं।

उद्घाटन करते हुए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने कहा कि राज्यवासियों को गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के मकसद से स्वास्थ विभाग लगातार प्रयासरत है। बिहार सरकार दिन-रात काम कर रही है ताकि राज्य के लोगों को स्वास्थ्य संस्थाओं में उपचार से जुड़ी तमाम प्रकार की स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सके।

लोगों को इलाज के लिए बाहर नहीं पड़े। मंत्री ने कहा कि यहां आने वाले मरीजों को पैथोलॉजी लैब से नये तरीके से अत्याधुनिक यंत्रों द्वारा गुणवत्तापूर्ण जांच रिपोर्ट प्राप्त हो सकेगी। स्वास्थ्य विभाग का मकसद है कि शीघ्र की राजधानी पटना के 2 अस्पताल ऑटोनोमस भी होंगे, इसमें एलएनजेपी और राजेंद्र नगर नेत्र अस्पताल को शामिल किया गया है।

Trending