Connect with us

BIHAR

बिहार के भागलपुर और जमुई जिले से झारखंड के इन शहरों के लिए शुरू होगी सरकारी बस सेवा

Published

on

शीघ्र ही बिहार के भागलपुर से झारखंड के बीच सरकारी बस का परिचालन शुरू होगा। इसके लिए पथ परिवहन निगम ने भागलपुर से झारखंड के देवघर, रांची, बोकारो, धनबाद व अन्य जगहों के लिए बस सेवा शुरूआत की पहल की है। जमुई से बोकारो और धनबाद के लिए बसें चलाई जाएगी। बता दें कि वर्तमान में परिवहन निगम की एक भी बस भागलपुर से झारखंड के लिए रवाना नहीं होती है।

पथ परिवहन निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक पवन कुमार शांडिल्य ने बताया कि सालों पूर्व भागलपुर से झारखंड के लिए बसों का परिचालन होता था। फिर बाद में परिचालन बंद कर दिया गया। झारखंड के 12 लाभकारी मार्गों का चयन कर मुख्यालय को प्रस्ताव सौंपा गया है। पीपीपी मोड में बसों के परिचालन के लिए रिक्तियां निकाली जा रही है। प्रक्रिया पूर्ण होते ही सेवा शुरू हो जाएगी।

संकेतिक चित्र

क्षेत्रीय प्रबंधक ने बताया कि प्राइवेट बसों की तुलना में पथ परिवहन निगम का किराया कम है। इससे लोगों को फायदा होगा। पथ परिवहन निगम के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक संचालन रामनारायण दुबे का कहना है कि झारखंड से अधिक जुड़ाव भागलपुर के लोगों का है। बड़ी संख्या में यहां के लोग झारखंड के अलग-अलग शहरों में गुजर-बसर करते हैं। बस परिचालन शुरू होते ही बस डीपो की रौनक फिर लौट आएगी।

मुंगेर बस डीपो के लिए क्षेत्रीय पथ परिवहन निगम भागलपुर ने मुख्यालय से 10 बस उपलब्ध कराने की डिमांड की है। पवन कुमार शांडिल्य ने कहा कि मुंगेर नदी पर श्रीकृष्ण सेतु पर परिचालन शुरू हो गया है। इस पुल से सार्वजनिक गाड़ियों के परिचालन की हरी झंडी मिलने के बाद मुंगेर से विभिन्न जगहों के लिए बसों का परिचालन शुरू करना फायदेमंद साबित होगा। इसी को देखते हुए दस नई बसें उपलब्ध कराने की मांग मुख्यालय से की गई है।

घोरघट पुल निर्माण के बाद भागलपुर से मुंगेर के लिए डायरेक्ट बस सेवा का परिचालन शुरू हो गया है। फिलहाल इस रूट पर एक बस का परिचालन हो रहा है। पथ परिवहन निगम के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक संचालन रामनारायण दुबे ने बताया कि मुंगेर-भागलपुर के बीच चलने वाली बसों के राजस्व की समीक्षा किया जा रहा है। राजस्व में इजाफा होने के बाद बसों की संख्या में वृद्धि की जा सकती है। सबसे अधिक गुरुवार को 2200 राजस्व की प्राप्ति हुई।