Connect with us

STORY

हथौड़े से कलाकृति बनाने वाले बिहार के शुभम को इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में मिली जगह, हथौड़े से शीशे पर उकेरते है चित्र

Published

on

हथौड़े से कलाकृति करने वाले बिहार के कलाकार शुभम वर्मा को इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में जगह पक्का हो गया है। स्विस आर्टिस्ट सिमोन बर्जर से मोटिवेट लेकर सैटर ग्लास आर्ट बनाने वाले बिहार के शुभम ने कार के फ्रंट विंडसिल्ड पर भगवान गणेश की सबसे बड़ी कलाकृति बनाकर इस रिकॉर्ड को अपने नाम किया है ।

बिहार के सिमोन बर्जर में पहचान बना चुके शुभम कला की दुनिया में पूरे देश में अपनी छाप छोड़ी है। बेकार के सीसे के टुकड़ों पर हथौडे़ से कलाकृति करनेवाले शुभम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में शामिल हो गए हैं। 4 फरवरी 2022 को शुभम को ये सम्मान मिला है।

Pic- Shubham

शुभम को तीसरी आर्टिस्ट के लिए ये सम्मान मिला है। अपनी तीसरी कलाकृति में शुभम ने कार के फ्रंट विंडसिल्ड पर गणेश भगवान की सबसे बड़ी चित्रकारी बना दी है। शुभम ने अपनी चित्रकारी में 29 इंच चौड़ी और 40 इंच लंबी इस कलाकृति में भगवान गणेश का रूप प्रदर्शित किया है। इससे पहले अपने दूसरे कलाकृति में शुभम ने बिहार के मानचित्र पर भगवान बुद्ध की कलाकृति बनाई थी।

शुभम नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी, पटना से वर्ष 2018 में ग्रेजुएशन कर चुके हैं। लेमिनेटेड ग्लास पर तैयार की जाने वाली अपनी कलाकृति को शुभम शीशे पर हथौड़ा मारकर बनाते हैं। अपनी कलाकृति के लिए शुभम ने तो किसी रंग का यूज करते हैं ना ही किसी ब्रश का। कभी तेज तो कभी धीमे से शीशे पर छेनी और हथौड़े से शुभम अपनी कलाकृतियों को तैयार करते हैं।

बता दें कि ग्लास लेमिनेटेड होने के कारण यह पूरी तरह से टूटता नहीं है, लेकिन वह क्रैक हो जाता है। यही क्रैक धीरे-धीरे एक आकृति का आकार ले लेती है। अपनी हर कलाकृति के लिए शुभम कार के टूटे या क्षतिग्रस्त विंडसिल्ड का यूज करते हैं। इसके पीछे उनका मकसद है कि वेस्ट मेटेरियल को इस्तेमाल में लाना है।