Connect with us

BIHAR

युक्रेन में फंसे छात्रों को अपने खर्चे से घर पहुंचा रही है नीतीश सरकार, CM ने कहीं ये बातें

Published

on

यूक्रेन और रसिया के बीच जारी जंग में फंसे बिहार के 13 छात्र रविवार को पटना एयरपोर्ट पहुंचे। सुबह 9 बजे के करीब ये सभी छात्र स्पाइस जेट की विमान से बिहार के अलग-अलग जिलों के 7 छात्र सकुशल अपने घर लौटकर राहत की सांस ली। इसके बाद 6 छात्रों को मुंबई से एयर इंडिया की दूसरी विमान से पटना एयरपोर्ट लाया गया।

नीतीश सरकार ने छात्रों के उन्हें घरों तक भेजने का जिम्मा उठाया। इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा कि यूक्रेन में फंसे छात्रों को केंद्र सरकार सकुशल देश ला रही है। उनमें से बिहारी छात्रों को चिन्हित कर वहां से वापस लाने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होगी।

बता दें कि सीएम नीतीश ने बाकी बचे छात्रों और उनके परिजनों को आश्वासन दिया है कि शीघ्र ही उन सभी को घर बुला लिया जाएगा। सीएम ने कहा कि यूक्रेन में फंसे स्टूडेंट्स को केंद्र सरकार भारत ला रही है। ऐसे में उन में से जो बिहार के छात्र हैं, उनको हमारी सरकार अपने खर्च से घर पहुंचाने की तैयारी कर रही है। आज भी कुछ छात्र आए हैं। बाकी जल्द आने वाले हैं। जितने भी छात्र आ रहे हैं उन सभी को चिन्हित किया जा रहा है।

सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि देश के किसी भी हवाईअड्डे पर बिहार के छात्र उतरेंगे तो बिहार सरकार उन्हें अपने खर्च पर बिहार वापसी कराएगी। उन्होंने कहा कि वहां की क्या हालात है सब लोगों के प्रति हमारी सहानुभूति है। वहां कोई पढ़ने के लिए गया है, कोई वहां रहता है। यदि कोई समस्या होती है तो हम चाहेंगे कि उन्हें किसी तरह की कोई समस्या ना हो और राज्य सरकार उन्हें पूरी पूरी हेल्प करेगी।