Connect with us

BIHAR

बिहार के शिक्षक ने पेश की मिसाल, सैकड़ों लोगों की बचाई जान, चारों तरफ हो रही है तारीफ

Published

on

आमतौर पर शिक्षकों को पढ़ाने के लिए जाना जाता है लेकिन बिहार के इस शिक्षक ने सैकड़ों लोगों की जान बचा कर जो मिसाल पेश की है अब उसकी चौतरफा सराहना हो रही है। कहा जाता है कि मुसीबत के समय अगर बुलंद हौसले हो तो से किसी भी विपदा से पार पाया जा सकता है। बिहार के मोतिहारी के मठिया जिरात इलाके में कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला जहां पेशे से एक शिक्षक ने बहादुरी की मिसाल पेश कर दी।

बता दें कि सुभाष नगर इलाके में बिजली के तार में आग लगी हुई थी जिसको लेकर मोहल्लावासियों में अफरा-तफरी का माहौल था। किसी को यह आईडिया नहीं आ रहा था कि बिजली से लगे आग पर कैसे काबू पाया जाए और इससे कैसे मुक्ति मिले। ऐसे भीड़ में एक युवा ने लोगों की जिंदगी बचाने की ठान ली और अग्निशामक उपकरण को सीढ़ी के माध्यम से पोल के उस हिस्से तक पहुंच गया, जहां तार में आग लगी थी। लोग बताते हैं कि अगर समय रहते इसे नहीं बुझाया जाता तो मोहल्ला में एक बड़ी मुसीबत खड़ी हो जाती और सैकड़ों लोग इसके चपेट में आ जाते।

अपनी जान की परवाह किए बगैर बहादुरी की मिसाल पेश करने वाले इस युवा का नाम मदनाकर कुमार हैं, वे पेशे से शिक्षक हैं। 440 वोल्ट के बिजली के तार में लगी आग को बुझाने वाले इस शख्स की बहादुरी की तारीफ चारों तरफ हो रही है। मोहल्ला के लोगों का मानना है कि इस युवा ने अगर हिम्मत नहीं दिखाई होती तो अप्रिय घटना घटित हो सकती थी। (स्त्रोत- आजतक)

Trending