Connect with us

BIHAR

पटना एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन में होंगे 52 चेक-इन काउंटर, सालाना 80 लाख यात्रियों की होगी क्षमता

Published

on

पटना हवाई अड्डा पर लगातार यात्री सुविधाओं के साथ यातायात वृद्धि को पूरा करने के लिए विस्तार का काम जारी है। मार्च 2023 तक हवाई अड्डे का एक नया टर्मिनल भवन होगा। जयप्रकाश नारायण इंटरनेशनल एयरपोर्ट, पटना के टर्मिनल भवन का निर्माण कार्य जारी है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया और पटना हवाईअड्डे के अधिकारियों की मानें तो 2023 के मार्च माह तक इसे पूरा कर लिया जाएगा।

बता दें कि कोविड के चलते टर्मिनल बिल्डिंग के विस्तार का काम ठप हो गया था। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि 698 करोड़ की राशि खर्च कर नया टर्मिनल भवन बनाया जाएगा।

अब तक मिली जानकारी के मुताबिक टर्मिनल के पहले माले पर प्रस्थान लाउंज और ग्राउंड फ्लोर पर आगमन क्षेत्र होगा। इस इमारत में एक साल में 80 लाख यात्रियों की संभालने की क्षमता होगी। नया टर्मिनल भवन वन 7 लाख वर्ग फुट एरिया में होगा। फ्लाईओवर को जोड़ने वाला प्रस्थान स्तर लिफ्ट और सीढ़ियों के जरिए आगमन के साथ अच्छी तरह से जुड़ा होगा।

पटना एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन में चेक-इन काउंटर की संख्या 52 होगी। साथ ही यह इन-लाइन बैगेज हैंडलिंग सिस्टम से लैस होगा। एयरपोर्ट में आने वाले यात्रियों के लिए पांच कन्वेयर और पांच एयरोब्रिज होगा। इंटीरियर में बिहार की कला और संस्कृति की झलक देखने को मिलेगी। नया टर्मिनल वन चार सितारा होम रेटेड होगा। बता दें कि देश भर के 20 सबसे व्यस्त हवाई अड्डों में पटना एयरपोर्ट की गिनती होती है। लेकिन इरनवे छोटा होने के चलते हताहत और आवासीय इलाकों में नुकसान की संभावना बनी रहती है।

Trending