Connect with us

BIHAR

बिहार में इस रूट पर बन रहा है 9 नए रेलवे स्टेशन, कोसी और सीमांचल से बंगाल जाना होगा आसान

Published

on

भारत सरकार द्वारा बजट पेश होने के बाद से ही अररिया-गलगलिया रेल परियोजना पर तीव्र गति से काम दिखने लगा है। जिले में नौ स्टेशन बनाने की योजना है। पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे कटिहार के अधिकारियों द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक जिले में 47.60 किमी रेल लाइन का निर्माण होना है। बता दें कि इस रेल खंड पर अररिया कोर्ट, अररिया आरएस, रहमतपुर, बांसबाड़ी, खवासपुर, लक्ष्मीपुर, बरदाहा, कलियागंज व टेढ़ागाछी में स्टेशन बनाने का प्रस्ताव है। इस रूट पर ट्रेनों के परिचालन से बिहार से बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों का सफर बेहद सुगम हो जाएगा।

बता दें कि इस रेलखंड पर 9 स्टेशन बनाने की योजना है। अररिया में 47.60 किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाई जाएगी। भुगतान नहीं होने की वजह से खवासपुर से लक्ष्मीपुर और बैजनाथपुर के बीच कार्य प्रभावित है। इस रेल लाइन पर ट्रेनों का परिचालन शुरू होने से घंटे भर में ही सीमांचल और कोसी के लोग बंगाल का सफर तय करेंगे। विशेष रूप से किशनगंज, अररिया और पूर्णिया के लोगों को बंगाल जाना और भी आसान हो जाएगा। संभावना है कि इसी साल यानी 2022 में इसका निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा।

प्रतीकात्मक चित्र

भारत नेपाल बॉर्डर सड़क अररिया गलगलिया रेल लाइन परियोजना, एनएच 327 अब रेल ओवर ब्रिज बनाया जा सकता है। इसे बनाने को लेकर जिला प्रशासन और रेलवे अधिकारियों के बीच बातचीत का दौर जारी है। इसके साथ ही नेशनल हाईवे-1 का चौड़ीकरण होगा और फारबिसगंज तक नया बाईपास का काम होगा। (इस आर्टिकल में प्रयोग किए गए चित्र प्रतीकात्मक हैं।)

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.