Connect with us

BIHAR

भागलपुर और हंसडीहा के बीच बनेगा फोरलेन और दो रेल ओवरब्रिज, भूमि अधिग्रहण का काम शुरू

Published

on

भागलपुर और भलजोर (हंसडीहा) के बीच बनने वाले 63 किमी फोरलेन नेशनल हाईवे-133 ई पर बाईपास, दो रेल ओवरब्रिज और टोल प्लाजा का निर्माण होगा। बांका जिला के बौंसी के निकट बाईपास बनाया जाएगा। रजौन और जगदीपुर के बीच टोल प्लाजा बनाए जाएंगे वहीं, ढाकामोड़ और पंजवारा रोड के निकट रेल ओवरब्रिज का निर्माण होगा। जबकि बैजानी के पास बन रहे टू लेन घुमावदार टूटा पुल को तोड़कर फोरलेन पुल बनाया जाएगा। भूतल सड़क एवं परिवहन मंत्रालय को एनएच विभाग ने फोरलेन सड़क का अलायमेंट बनाकर सौंप दिया है। बताया जा रहा है कि 17 सौ करोड़ की लागत से इस फोरलेन सड़क का निर्माण होना है।

विभागीय अधिकारियों के मुताबिक, विभाग के पास पर्याप्त मात्रा में अनुसार सेंट टेरेसा स्कूल से जगदीशपुर और जगदीशपुर से रजौन के बीच जमीन उपलब्ध है। कुछ स्थानों में भूमि अधिग्रहण का काम शुरू होगा। सड़क निर्माण के लिए कुल 98 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण होना है। भू अर्जन का काम बांका जिला में लगभग पूरा हो चुका है। बता दें कि 7 मीटर चौड़ी सड़क को 22 मीटर चोरी करने की योजना है। ढाकामोड़ के पास रेल ओवरब्रिज बनाया जाना है। श्याम बाजार के निकट पुराने पुल को ध्वस्त कर नया पुल बनाया जाएगा। 45 पुल और पुलियों का निर्माण भागलपुर और भलजोर के बीच होना है।

प्रतीकात्मक चित्र

पर्यावरण के लिहाज से सड़क के दोनों तरफ पौधारोपण में होना है। रोड के दोनों तरफ एक-एक मीटर चौड़ा फुटपाथ बनाया जाएगा। अलकतरा-गिट्टी से सड़क का निर्माण होगा वहीं, जहां-जहां जल जमाव की समस्या है वहां पीसीसी सड़क बनाई जाएगी। 63 किलोमीटर लंबी सड़क में चार किलोमीटर का हिस्सा लोहिया पुल से बाईपास फ्लाईओवर अलीगंज तक पथ निर्माण निगम सड़क निर्माण का काम करेगी। इपीसी अर्थात इंजीनियर‍िंंग प्रोक्यूरेंट कंस्ट्रक्शन मोड में सड़क बनेगी। ठेकेदार को इसके लिए डिजाइन तैयार करना है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय सड़क का डीपीआर तैयार करने वाली कंपनी चेतन्य कंसलटेंट से बातचीत कर रहा है।

राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग के मुख्य अभियंता अनिल कुमार सिन्हा ने कहा है कि आने वाले समय में भागलपुर-हंसडीहा मार्ग पर गाड़ियों का लोड अधिक होगा। इसी के मद्देनजर टूलेन के बजाय सड़क को फोरलेन में बनाने का फैसला लिया है। मंत्रालय को अलायमेंट भेज दिया गया है। डीपीआर पर मुहर लगते ही टेंडर की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending