Connect with us

BIHAR

केंद्रीय बजट से बिहार में हाईवे निर्माण को मिलेगी रफ्तार, इन सड़कों के बनने से पूरे राज्य को होगा फायदा

Published

on

केंद्रीय आम बजट 2022 में गति शक्ति योजना के तहत 25 हजार किलोमीटर नेशनल हाईवे निर्माण की घोषणा हुई है। बिहार सरकार में पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने बताया कि बिहार में भारतमाला परियोजना-2 के तहत बनने वाली सड़कों के निर्माण में इस योजना से रफ्तार आएगी। आधा दर्जन से ज्यादा सड़कों के निर्माण का प्रस्ताव बिहार में भारतमाला परियोजना-2 के तहत दिया हुआ है। इन सड़कों के बन जाने से बिहार के आधा से ज्यादा जिलों को प्रत्यक्ष तौर पर लाभ मिलेगा। एक दूसरे से जुड़ने पर नेशनल हाईवे के माध्यम से पूरे राज्य में इसके फायदे होंगे।

बता दें कि भारतमाला फेज-2 के तहत बिहार में पटना-कोलकाता एक्सप्रेस वे, भारत-नेपाल बार्डर सड़क, बक्सर-अरवल-जहानाबाद-बिहारशरीफ फोरलेन, दलसिंहसराय-सिमरी बख्तियारपुर, दिघवारा-मशरख-मोतिहारी-रक्सौल फोरलेन, सुल्तानगंज-देवघर ग्रीन फील्ड, मशरख-मुजफ्फरपुर, बक्सर-भागलपुर एक्सप्रेस वे, नवादा-बरौनी-झंझारपुर-लदनिया, मांझी-बरौली-बेतिया-कुशीनगर और कहलगांव-कुरसेला-फारबिसगंज फोरलेन हाईवे का निर्माण होना है।

Ki

पथ निर्माण मंत्री नितिन नवीन ने जानकारी दी कि गति शक्ति योजना से अलग-अलग विभागों में आपसी समन्वय स्थापित होंगे और लॉजिस्टिक के क्षेत्र में अभूतपूर्व बदलाव होगा। निर्बाध मल्टी कनेक्टिविटी का विकास होगा। इससे माल ढुलाई काफी सस्ती और सुलभ होगी। समय पर बाजार तक किसानों की उपज पहुंच सकेगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending