Connect with us

BIHAR

बेगूसराय सदर अस्पताल में बनेगा 50 बेड वाला बच्चा वार्ड, खर्च होंगे साढ़े सात करोड़ रुपए

Published

on

मंगलवार को केंद्रीय मंत्री सह बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह ने सदर अस्पताल में बरौनी रिफाइनरी के सहायता से 7 करोड़ 48 लाख रुपए की राशि से बने 50 बेड का बच्चा वार्ड का शिलान्यास किया। 4 महीने के भीतर 4000 मीटर में फैले बच्चा अस्पताल का निर्माण किया जाएगा। अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित इस अस्पताल में चिकित्सकों तथा नर्स के लिए अलग से लाउंज की व्यवस्था होगी। बरौनी रिफाइनरी ने बच्चा अस्पताल को कोलकाता के एक्सपर्ट इंजीनियरिंग द्वारा डिजाइन करवाया है। बच्चा हॉस्पिटल के सारे खर्च का वहन बरौनी रिफाइनरी उठाएगी।‌ सांसद ने कहा कि पीएम मोदी दिन-रात उन्नति की बात सोचते हैं।

शिलान्यास करते हुए सांसद गिरिराज सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ की। उन्होंने कहा कि जिन्हें पीएम की आलोचना करना है करते रहें। हमें स्मरण रखना चाहिए था कि कोविड पीरियड में हमारे पास पीपीई कीट और एन-95 मास्क और वेंटिलेटर भी नहीं था। पूरे देश में ऑक्सीजन की किल्लत थी। लेकिन आज के समय में देश स्तर पर मेडिकल सुविधाओं का विस्तार ही नहीं हुआ है। बल्कि इन सामग्रियों को विदेश में निर्यात किए जा रहे है।

गिरिराज सिंह ने जिले के डीएम अरविंद कुमार वर्मा द्वारा कोविड-19 में किए गए बेहतर कार्य की तारीफ की। उन्होंने कहा कि डीएम ने जिला में ऑक्सीजन की आपूर्ति के साथ ही आसपास के जिला में भी ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दिया। सांसद ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री एवं बरौनी रिफाइनरी की आईडी से निर्देशक बनीं शुक्ला मिस्त्री के कोशिशों की सराहना की।

केंद्रीय मंत्री ने जानकारी दी कि सभी जिला में केंद्र सरकार एक मेडिकल कॉलेज खोलने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके तहत बिहार में दो जिला पर एक मेडिकल कॉलेज बनेगा। उन्होंने कहा कि सदर अस्पताल, तेघड़ा, बलिया जैसे जगहों पर ऑक्सीजन प्लांट काम कर रहा है।

शिलान्यास के मौके पर रिफाइनरी के निदेशक शुक्ला मिस्त्री, स्थानीय विधायक कुंदन कुमार, सदर अस्पताल के प्रशासी पदाधिकारी डॉ विनोद कुमार शर्मा, डीआईओ डॉ गोपाल मिश्रा, डीपीएम शैलेशचंद्र सहित अन्य गणमान्य उपस्थित थे। कार्यक्रम का अंत बरौनी रिफाइनरी के महाप्रबंधक तकनीकी आरके झा ने धन्यवाद ज्ञापन कर किया।

बता दें कि कोलकाता के एक्सपर्ट इंजीनियरों द्वारा बनाए गए डिजाइन में 4000 वर्ग मीटर के पूरे क्षेत्र में बिल्ड अप एरिया 650 स्क्वायर मीटर में बनेगा, जिसमें कुल 36 सामान्य बेड होंगे। 10 वेंटीलेटर, इसके अलावे दस आईसीयू बेड, 4 निरीक्षण बेड, सौ केवी का जेनरेटर, 39 टन का एसी कांप्लेक्स होगा, दो पोर्टेबल एक्स-रे मशीन, 5 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सहित अन्य मेडिकल सुविधा उपलब्ध होगी। दवाई स्टोरी अलग से बनाया जाएगा। चार करोड रुपए बिल्डिंग बनाने में खर्च होंगे वहीं मशीन सहित अन्य चीजों पर तीन करोड़ रुपए खर्च होंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending