Connect with us

STORY

हिंदी मीडियम से पढ़े श्रीधर को मिली बड़ी कामयाबी, Google ने ऑफर किया 3.30 करोड़ का पैकेज

Published

on

बहुत सारे लोगों का मानना होता है कि हिंदी मीडियम से पढ़ाई करके बड़ी कामयाबी हासिल नहीं की जा सकती है। अगर आप भी ऐसी सोच को मानते हैं तो आप गलत हैं। आज हम कहानी बताने जा रहे हैं उस शख्स के बारे में जिन्होंने प्रारंभिक पढ़ाई-लिखाई हिंदी मीडियम से की और अब गूगल ने इस शख्स को 3.30 करोड़ रुपए का जॉब पैकेज ऑफर किया है।

राजस्थान के अजमेर से आने वाले इस शख्स का नाम श्रीधर है जिन्होंने सफलता की नई इबारत लिखी है। गूगल ने श्रीधर को 3.30 करोड़ रुपए सालाना पैकेज ऑफर दिया है। श्रीधर को गूगल में सीनियर ग्रुप इंजीनियर के पद पर नियुक्ति हुई है। वर्तमान में न्यूयॉर्क की कंपनी ब्लूमबर्ग में बतौर सीनियर इंजीनियर के पद पर श्रीधर सेवा दे रहे हैं।

श्रीधर शुरुआती दिनों से ही पढ़ाई के प्रति इतने फिक्रमंद रहते थे कि परिवार में ना तो वह मां की सुनते थे और ना ही परिवार के सदस्यों की। अपना पूरा ध्यान पढ़ाई पर ही केंद्रित करते रहते थे। पिता हरि चंदनानी के ने बताया कि 31 दिसंबर 1985 को शहर के जवाहरलाल नेहरू सरकारी हॉस्पिटल में श्रीधर का जन्म हुआ। शुरुआती पढ़ाई हिंदी मीडियम से हुई। फिर अजमेर के सेंट पॉल स्कूल में एडमिशन हुआ।

उन्होंने बताया कि आठवीं वर्ग की मेरिट में आए थे। इसके बाद आधार से स्कूल से इंटरमीडिएट की पढ़ाई फिर बाद में उनका चयन AIEEE में हुआ। पुणे में कंप्यूटर साइंस में बीई की पढ़ाई पूरी करने के बाद सर्वप्रथम हैदराबाद में इंफोसिस कंपनी में नौकरी लगी। साल 2012 में मास्टर डिग्री के लिए अमेरिका रवाना हो गए। वहां वर्जीनिया टेक यूनिवर्सिटी से मास्टर डिग्री पूरी करने के बाद ब्लूमबर्ग में नौकरी मिली।

पिता बताते हैं कि जॉब के साथ ही श्रीधर हायर स्टडी जारी रखे थे। साल 2021 में छुट्टियां लेकर पढ़ाई जारी रखी। फिर उनका चयन गूगल में हुआ। वाह बेहद साधारण परिवार से तालुकात रखते हैं। पिता ने भी काफी संघर्ष किया है। 10-12 साल की आयु में लकड़ी और कोयले की टाल चलाते थे। इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर गुजरात मोरवी में नौकरी लगी और वर्ष 1976 में सिंचाई विभाग में नियुक्ति हुई।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending