Connect with us

STORY

सास ने पेश की मिसाल, बेटे की मृत्यु के बाद बहू को पढ़ाकर लेक्चरर बनाया और करवाई दूसरी शादी

Published

on

राजस्थान के फतेहपुर शादी में एक गवर्नमेंट शिक्षिका ने अपनी विधवा बहू की दूसरी शादी करवा कर मिसाल पेश की है। बहु को बेटी की तरह सास ने विदा किया। बता दें कि शिक्षिका कमला देवी के छोटे पुत्र शुभम की शादी मई 2016 में संपन्न हुई थी। शुभम शादी के बाद किर्गिस्तान एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए चले गए। वहां नवंबर 2016 में ही उनकी ब्रेन स्ट्रोक से मृत्यु हो गई।

सास ने बहू का हौसला अफजाई करते हुए उसकी पढ़ाई लिखाई में कोई कसर नहीं छोड़ी। परिणाम स्वरुप उनकी बहू ग्रेड वन की लेक्चरर बन गई। अब 5 वर्षों के बाद सास ने अपनी बहू को बेटी की तरह धूमधाम से दूसरी शादी रचाई। बहू का नाम सुनीता है जिसकी शादी सास ने मुकेश नाम के लड़के से करवाई है।

कमला देवी बताती है कि उनका पुत्र शुभम और बहुत सुनीता किसी प्रोग्राम में एक-दूसरे से मिले थे। शुभम ने सुनीता से शादी करने के लिए घर वालों से बात की। शादी के दौरान सुनीता के घर की माली हालात ठीक नहीं थी। बिना दहेज लिए ही कमला देवी ने सुनीता को अपने घर की बहू बनाया। ऊपर वाले को कुछ और ही मंजूर था। शादी के कुछ महीने बाद ही शुभम इस दुनिया से चल बसे।

कमला देवी के बड़े पुत्र और शुभम के बड़े भाई रजत ने बताया कि शुभम की मृत्यु के पश्चात महा ने सुनीता को उनसे भी ज्यादा दुलार प्यार किया। शुभम के ना होने के बाद भी मां ने सुनीता को एमए, बीएड करवाकर जनरल कंपटीशन की तैयारी करवाई। बीते साल की हिस्ट्री के लेक्चरर पद पर सुनीता का सिलेक्शन हुआ। वर्तमान में चुरू जिले के सरदारशहर क्षेत्र के सुमेरिया में टीचर है। सुनीता ने अपने घर का ध्यान रखने के साथ ही अपने माता-पिता का भी पूरा ख्याल रखा। अपने छोटे भाई को भी पढ़ाया।

सुनीता ने बातचीत करते हुए कहा कि पति के निधन के बाद सास ने उसे एक बेटी की तरह प्यार दिया। नई जिंदगी की शुरुआत के लिए सास ने मुकेश से उसकी विवाह संपन्न करवाई है। बेटी की तरह सास ने उसका कन्यादान किया है, जिससे वह बेहद प्रसन्न है।

Source- Aaj Tak

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending