Connect with us

BIHAR

बिहार बोर्ड की परीक्षा में कदाचार करने पर नपेंगे छात्र और शिक्षक, परीक्षा केंद्र पर लगाई जाएगी धारा 144

Published

on

बिहार बोर्ड की आयोजित होने वाली 12वीं की परीक्षा में वीक्षण कार्य करने वाले शिक्षा कर्मियों की नियुक्ति लॉटरी सिस्टम से होगी। बिहार बोर्ड द्वारा शिक्षकों की सूची हर जिला शिक्षा कार्यालय को भेज दी गई है। संबंधित जिला शिक्षा कार्यालय को 28 जनवरी तक वीक्षकों की नियुक्ति कर देना है। पटना डियो कार्यालय के मुताबिक 25 जनवरी को रैंडमली वीक्षकों की नियुक्ति होगी। ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड में वीक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा।

इंटर और मैट्रिक परीक्षा में किसी केंद्र पर कदाचार होता है तो इसके जिम्मेदार केंद्राधीक्षक और दंडाधिकारी होंगे। बिहार बोर्ड ऐसे केंद्राधीक्षक और दंडाधिकारी पर कार्रवाई करेगी। बिहार बोर्ड ने मार्गदर्शिका में इसकी जानकारी दी है। कदाचार मुक्त परीक्षा हो इसके लिए तमाम सावधानियां बरतने का निर्देश दिया गया है। कदाचार मुक्त परीक्षा के लिए स्टूडेंट्स से अपील की जाएगी। परीक्षा सेंटर के बाहर एंट्री गेट पर पर्ची चिपकाया जाएगा।

k

बता दें कि कदाचार मुक्त परीक्षा हो उसके लिए सभी सेंटर पर धारा 144 लगाई जाएगी। परीक्षा सेंटर के अंदर की व्यवस्था के लिए केंद्र अधीक्षक एवं उनके साथी कर्मी की सामूहिक जिम्मेदारी होगी। कदाचार करते हुए पकड़े जाने पर परीक्षार्थियों और उनके सहयोगी एवं परिजनों पर भी कार्रवाई होगी। सामूहिक कदाचार होने की स्थिति पर उस केंद्र की परीक्षा को रद्द कर दिया जाएगा। एग्जाम सेंटर के अंदर ही शौचालय जाने की परमिशन मिलेगी।

बता दें कि गोपनीय प्रश्नपत्र से जुड़ी हुई विवरण की एक प्रति केंद्राधीक्षक को परीक्षा शुरू होने से पूर्व में ही उपलब्ध करा दी जाती है। इसमें विषयवार परीक्षार्थियों की संख्या के अनुसार भेजे गए प्रश्नपत्रों की संख्या भी रहती है। प्रश्न पत्र की कमी होने पर केंद्र अधीक्षक अपने जिले के शिक्षा पदाधिकारी या डीएम से संपर्क करेंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending