Connect with us

MOTIVATIONAL

गरीब किसान का बेटा बना IAS अफसर, परिवार का बढ़ाया मान, प्रेरक है इस युवा की कहानी

Published

on

यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) की परीक्षा में किसान के बेटे ने कामयाबी के झंडे गाड़े हैं। मोहम्मद आकिब ने 203वीं रैंक हासिल की हैं। आकिब के पिता अलाउद्दीन पेशे से किसान हैं। उनकी कामयाबी से इलाके के लोग खुशी से गदगद हैं। लोग घर पहुंचकर आकिब की सफलता पर बधाई दे रहे हैं। साल 2019 में यूपीएससी एग्जाम में आकिब ने 579वीं रैंक हासिल की थी। इन दिनों सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी, हैदराबाद में ट्रेनिंग ले रहे हैं।

आकिब ने शुरुआती पढ़ाई-लिखाई गांव के ही प्राथमिक विद्यालय से की है। फिर बाद में उनका सिलेक्शन नवोदय विद्यालय बसंतपुर बांसी जनपद सिद्धार्थनगर में हो गया था। वहीं से उन्होंने 12वीं की पढ़ाई कंप्लीट की। फिर भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान चेन्नई से कंप्यूटर साइंस में बीटेक की पढ़ाई पूरी की। आईएएस की तैयारी के लिए दिल्ली आ गए। आकिब के पिता बताते हैं कि बचपन से ही आकिब को आईएएस बनने की ख्वाहिश थी। शुरुआती दिनों में उनके टीचर रहे रामाज्ञा विश्वकर्मा ने कहा कि केवल कान्वेंट स्कूल नहीं बल्कि प्राथमिक विद्यालय के छात्र भी आईएस बन सकते हैं इसे आकिब ने चरितार्थ कर दिखाया है।

पढ़ाई में आकिब शुरू से ही होनहार छात्र रहे हैं। पहली बार प्री क्लियर की लेकिन मेन की परीक्षा में फेल हो गए और दूसरी बार स्वास्थ्य ठीक न होने के चलते प्री नहीं निकाल सके। दृढ़ निश्चय और प्रतिभा के बदौलत तीसरे प्रयास में कामयाबी पाई। आकिब अपनी सफलता का सारा श्रेय माता और पिता को देते हैं।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending