Connect with us

NATIONAL

दूरसंचार विभाग का ऐलान, अगले साल भारत के इन शहरों में सबसे पहले शुरू होगी 5G नेटवर्क सेवा

Published

on

तकरीबन पिछले 2 सालों से भारत में 5G का ट्रायल शुरू है और संभावना है कि मई 2022 तक यह ट्रायल जारी रहेगा। 5G की कमर्शियल लॉन्चिंग को लेकर पूरे देश इंतजार में है। लेकिन अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं मिला है। हालांकि दूरसंचार विभाग ने कहा है कि पहले मेट्रो और बड़े शहरों में 5G लॉन्च होगा।

दूरसंचार विभाग द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि गुरुग्राम, बेंगलुरु, मुंबई, दिल्ली, अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे जैसे बड़े शहरों में 5G पहले लॉन्च किया जाएगा और यह लॉन्चिंग ट्रायल के लिए नहीं, बल्कि कमर्शियल तौर पर होगी। बता दें कि इन शहरों पहले से ही वोडाफोन, आइडिया, जियो और एयरटेल का 5G नेटवर्क का ट्रायल जारी हैं।

प्रतीकात्मक चित्र

मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार 5G के नए स्पेक्ट्रम की नीलामी मार्च-अप्रैल 2022 में होगी, उसके बाद 5G नेटवर्क को लॉन्च किया जाएगा, हालांकि स्पेक्ट्रम की कीमत को लेकर कोई सूचना सामने नहीं आया है। यदि स्पेक्ट्रम की कीमत अधिक होगी तो 5G के प्लान भी महंगे होने की उम्मीद की जा रही है। एयरटेल ने कमर्शियल 5G ट्रायल का उदाहरण पेश किया था इस क्रम में कंपनी ने स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल 1800 MHz बैंड पर किया। यह ट्रायल NSA नेटवर्क टेक्नोलॉजी की मदद से मुमकिन हो पाया। वर्तमान में 5G नेटवर्क दुनिया भर में 35 से ज्यादा देशों में उपलब्ध है।

वोडाफोन आइडिया ने कुछ दिन पहले ही दावा किया कि पुणे में 5G ट्रायल के दौरान उसने 3.7 गीगाबिट प्रति सेकेंड की सबसे अधिक गति हासिल की है, जो भारत में किसी भी मोबाइल प्रोवाइडर द्वारा हासिल की गई सबसे तेज गति है। कंपनी ने गांधीनगर और पुणे में मिड-बैंड स्पेक्ट्रम में 1.5 GBPS डाउनलोड की गति दर्ज करने का भी दावा किया है। DoT ने वोडाफोन आइडिया को 5G नेटवर्क ट्रायल के लिए पारंपरिक 3.5 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम बैंड के साथ-साथ 26 गीगाहर्ट्ज (जीएचजेड) जैसे हाई फ्रीक्वेंसी बैंड आवंटित किए हैं।

आपको बता दें कि में पिछले 2 साल में भारतीय बाजारों में करीब 100 से अधिक 5G स्मार्टफोन लॉन्च हुए हैं। लोगो को अब 5G लॉन्च होने का इंतजार है। हालांकि स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों लगभग 4G फोन लॉन्च करना बंद हीं कर दिया है बाजार में 5G फोन हीं आ रहे हैं।

5G नेटवर्क mmWave पर काम करती है इसे हाई बैंड 5G नेटवर्क बैंड भी कहा जाता है। इस बैंड में 24GHz से भी ज्यादा का frequency का इस्तेमाल होता है, एवं यहां पे और भी ज्यादा बैंडविथ मिलता है। इंटरनेट स्पीड की बात की जाए तो 5G सबसे तेज है इसमें लगभग 1GB प्रति सेकंड की इंटरनेट स्पीड रहती है। 4G नेटवर्क को लोगों तक पहुंचाने के लिए बहुत सारे छोटे एवं लोअर रेंज के cell phone tower का इस्तेमाल होता है ताकि coverage पूरा किया जा सके।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending