Connect with us

CAREER

बिहार में 46 हजार से अधिक प्रधान शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ, शिक्षा विभाग की मिली हरी झंडी

Published

on

बिहार में 46 हजार से अधिक प्रधान शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ हो गया है। शिक्षा विभाग में प्रधानाध्यापक और प्रधान शिक्षकों की बहाली के लिए अधियाचना तैयार कर ली है। बीते दिन शनिवार को राज्य के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने इसको लेकर हरी झंडी दे दी है। अधियाचना का प्रस्ताव सामान्य प्रशासन विभाग के माध्यम से बिहार लोक सेवा आयोग जाएगा। सोमवार के दिन ही पूरी प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाना है।

मिली जानकारी के मुताबिक शिक्षा विभाग के दोनों निदेशालयों प्राथमिक और माध्यमिक निदेशालयों की ओर से अलग-अलग अधियाचना तैयार की गई है। बता दें कि 40,000 से अधिक प्रधान शिक्षक और माध्यमिक शिक्षक की नियुक्ति में प्राथमिक निदेशालय ने 6,000 से अधिक प्रधानाध्यापक का प्रस्ताव तैयार किया है।

प्रतीकात्मक चित्र

संभावना जताई जा रही है कि जनवरी के पहले सप्ताह में ही बिहार लोक सेवा आयोग इन दोनों बहाली के लिए विज्ञापन जारी कर देगा। परीक्षा आयोजित कर इन दोनों रिक्तियां को भरा जाएगा। हालांकि इंटरव्यू नहीं होगा। गौरतलब हो कि कई सालों से ये पद रिक्त हैं। इन पदों पर नियुक्ति हो जाने से पढ़ाई की गुणवत्ता और स्कूल प्रशासन में सुधार होने की उम्मीद है।

बता दें कि सितंबर महीने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बिहार कैबिनेट की बैठक हुई थी जिसमें राज्य के सरकारी स्कूलों में प्राथमिक विद्यालयों में 40518 प्रधान शिक्षक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में 5334 प्रधानाध्यापक के पदों पर नियुक्ति के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई थी। (इस आर्टिकल में प्रयोग किए गए सभी चित्र काल्पनिक एवं प्रतीकात्मक है।)

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Trending