Connect with us

BIHAR

सासाराम से आरा के रास्ते पटना सिर्फ ढ़ाई घंटे में पहुँच सकेंगे, 35 सौ करोड़ से बनेगी फोरलेन सड़क

Published

on

सासाराम-आरा से पटना का सफर करने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है। फिलहाल पटना से सासाराम जाने में छह घंटे का समय लगता है लेकिन फोर लेने बनने के बाद यह दूरी महज ढाई घंटे की रह जाएगी। सब कुछ ठीक रहा तो 2022 के अंत तक पटना से आरा होते हुए सासाराम जाने वाले फोरलेन सड़क निर्माण का काम शुरू हो जाएगा।

इस सड़क निर्माण को लेकर कवायद तेज हो चुकी है। आरा में भूमि अधिग्रहण के प्राथमिक काम पूरा कर लिया गया है। पंचायत चुनाव खत्म होते ही एक 30 दिसंबर तक रिपोर्ट को तैयार कर एनएचएआई के पटना दफ्तर में भेज दी जाएगी। फोरलेन निर्माण के लिए 40 गांव की कुछ-कुछ जमीन ली जाएगी। पीरो, तरारी, गड़हनी, चरपोखरी एवं उदवंतनगर प्रखंडधिकारी ने खाता, खेसरा व रकबा की विस्तार रूप से रिपोर्ट तैयार कर ली है।

विभाग के मुताबिक सड़क निर्माण के लिए 40 गांव की 164.74 हेक्टेयर भूमि अधिग्रहण की जाएगी। भोजपुर जिले के उदवंतनगर से चांदी होकर फोरलेन सड़क गुजरेगी। भू अर्जन विभाग के मुताबिक अभी औपबंधिक रिपोर्ट बन गई है। यह सड़क आरा से सासाराम जाने वाली रेलवे लाइन के पूर्व दिशा से होते हुए गुजरेगी। लास्ट में मुआवजा देने के लिए थ्री सी रिपोर्ट तैयार की जाएगी। इस सड़क के बनने से आरा को जाम से मुक्ति मिलेगी। जिले के दक्षिणी इलाके से पटना जाने के लिए गाड़ी बिना आरा होते हुए ही पटना चली जाएगी।

पटना के रास्ते आरा होते हुए सासाराम तक जाने वाली इस सड़क को फोर व सिक्स लेन में बनाया जाएगा। अरवल के रास्ते सोन नदी पार कर यह शहर भोजपुर के सहार में पहुंचेगी। सोन नदी पार करने के लिए एक पुल को सिक्स लेन बनाया जाएगा। फिर पीरो, हसन बाजार, गड़हनी, विक्रमगंज, नोखा, संझौली होते हुए सासाराम से आगे सुअरा में जाकर एनएच दो यानी वाराणसी जाने वाली सड़क से जुड़ेगी। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि 130 किलोमीटर लंबे फोर व सिक्स लेन सड़क निर्माण पर तकरीबन 3500 करोड़ रुपए की लागत आएगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.