Connect with us

MOTIVATIONAL

बिहार के लाल सत्यम गांधी पहले प्रयास में यूपीएससी टॉप करने वाले का हुआ भव्य स्वागत, कही ये बातें

Published

on

देश की सबसे मुश्किल परीक्षा यूपीएससी में सफलता का परचम लहराने वाले बिहार के लाल सत्यम गांधी गांव पहुंचे जहां लोगों ने भव्य स्वागत किया। सत्यम गांधी बिहार के समस्तीपुर के दिघरा गांव से आते हैं। बीते दिन घर आने के क्रम में दरभंगा एयरपोर्ट पहुंचे जहां घरवालों ने फूल माला और गाजे बाजे के साथ शानदार स्वागत किया। गांव से निकलकर पहले ही प्रयास में यूपीएससी टॉप करने वाले सत्यम गांधी की कहानी अभ्यर्थियों के लिए प्रेरणा है।

सत्यम गांधी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि दिल्ली जाने के समय जो हमने जो सपना देखा था उसे निरंतर मेहनत के दम पर साकार किया। ग्रामीण क्षेत्रों का विकास करना और यूपीएससी की तैयारी कर रहे बच्चों को गाइडेंस करना मेरा मुख्य लक्ष्य रहेगा। उपस्थित लोग सत्यम की सफलता से बेहद खुश और उत्साहित दिख रहे थे। सत्यम के बारे में लोगों ने कहा कि हमारी मिट्टी से निकल कर अपनी प्रतिभा के दम पर क्षेत्र का नाम रोशन करने वाले सत्यम से देश में सराहनीय योगदान की उम्मीद है।

बता दें कि हाल ही में संघ लोक सेवा आयोग ने यूपीएससी 2020 के नतीजे घोषित किए थे जिसमें 761 अभ्यर्थियों को सफलता मिली थी। वहीं ग्रामीण इलाके से आने वाले बिहार के सत्यम गांधी ने पहले ही प्रयास में ऑल इंडिया में 10 वीं रैंक हासिल की थी।‌ बचपन से ही पढ़ाई में प्रतिभावान छात्र सत्यम ने इंटरमीडिएट की पढ़ाई के बाद पॉलीटिकल साइंस से ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की है। आईएएस अधिकारी बनकर अब देश में ग्रामीण क्षेत्रों में विकास करना इनका मुख्य लक्ष्य है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.