Connect with us

MOTIVATIONAL

कैंसर से हुआ पिता का निधन लेकिन नहीं टूटने दिया हौसला, मात्र 15 दिनों की तैयारी से क्लियर किया UPSC एग्जाम

Published

on

हम आज एक ऐसी यूपीएससी (UPSC) ESE परीक्षा पास करने वाली लड़की से रूबरू कराएँगे जिन्होंने अपने सपनों को पूरा करने हेतु सभी चुनौतियों का सामना किया। एक समय तो ऐसा भी था की जब उन्हें अपने परीक्षा की तैयारी हेतु निरंतर 15 दिन कड़ी मेहनत करनी पड़ी थी, परंतु तब भी वे यूपीएससी (UPSC) ESE के एग्जाम में जीत प्राप्त कर IES अधिकारी बनी।

नाम इनका श्रुति शर्मा (Shruti Sharma) है, जो की संयुक्त परिवार से संबंध करती है। श्रुति के परिवार में लोगों को नौकरी करना बिल्कुल ही पसंद न था। श्रुति पढ़ाई में ठीक थी इसलिए श्रुति के पिता जी की इच्छा थी कि वे पढ़ाई करें। जिसके लिए श्रुति का नामांकन B.tech में हुआ पर वे अपना अधिकतर समय अपने दोस्तों के ही साथ मटरगश्ती में बर्बाद कर दिया करती थी।

श्रुति शर्मा (Shruti Sharma) ने “Josh Talks” को बताया कि प्रथम वर्ष में श्रुति के दो विषयों में क्रॉस लग गए थे एवं द्वितीय वर्ष में 3 विषय। साथ ही जैसे-तैसे कर श्रुति ने अपनी इंजीनियरिंग पूर्ण तो कर ली पर इस क्रम में उनके पिता जी की तबीयत खराब थी। श्रुति ने आगे गेट का एग्जाम दिया जिसमें उन्हें द्वितीय कोशिश में सफलता प्राप्त हुई।

पिता के मृत्यु के बाद किया निश्चय

इधर जब श्रुति शर्मा (Shruti Sharma) के पिता जी का देहांत हुआ तो श्रुति ने निश्चय कर लिया कि वे अब मन लगाकर अध्ययन करेंगी और UPSC को अवश्य पास करेंगी। वैसे तो श्रुति बुरी तरह टूट चुकी थी परंतु उन्होंने अपनी इच्छा शक्ति बनाए रखा और तैयारी निरंतर जारी रखी। तृतीय कोशिश के लिए उनके पास केवल 15 दिनों का ही समय था जिसमें उन्होंने पूरी दृढ़शक्ति और लग्न से तैयारी की और सफलता भी प्राप्त कर ही लिया। उन्होंने यूपीएससी (UPSC) ESE एग्जाम में सफलता प्राप्त कर IES अधिकारी का पोस्ट प्राप्त किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.