Connect with us

CAREER

बिहार के कॉलेज और यूनिवर्सिटी में तृतीय श्रेणी कर्मियों के 13,817 पदों की लिखित परीक्षा से होगी नियुक्ति

Published

on

केंद्र सरकार द्वारा बनाई गई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए राज सरकार बिहार के कॉलेज और यूनिवर्सिटी से तृतीय श्रेणी कर्मियों के 13,817 पदों की भर्ती करेगी। बता दें कि राज्य के सभी 262 संबद्ध कॉलेजो और 13 विश्वविद्यालयों में लगभग 33 हजार कर्मियों के सृजित पद हैं। बिहार सरकार लिखित परीक्षा के जरिए इन पदों पर बहाली करने के फैसले पर मुहर लगा दी है।

विदित हो कि साल 2000 के बाद अनुकंपा के सिवाय किसी तरह की तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों की नियुक्ति नहीं हुई है। पटना यूनिवर्सिटी और नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के कुलपति रहे डा.रासबिहारी प्रसाद सिंह ने कहा कि पटना विश्वविद्यालय में तृतीय श्रेणी के 834 से ज्यादा पद खाली है। मगध विश्वविद्यालय में 1191 पद, जेपी यूनिवर्सिटी में 952, बीआरबीयू में 1543, तिलका मांझी में 1084, दरभंगा विश्वविद्यालय में 1210, पूर्णिया विश्वविद्यालय में 887 और मुंगेर विश्वविद्यालय में 913 पद खाली है, जिस की बहाली बहुत जल्द होगी।

शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार ने तृतीय श्रेणी के कर्मचारियों की बहाली के लिए कुल सचिवों को आवश्यक दिशा निर्देश दे दिए हैं। संबद्ध कॉलेजों से सीटों की बहाली के बताते ही शिक्षा विभाग बहाली की प्रक्रिया शुरू करेगी। इसके तिथि का निर्धारण अभी नहीं हो पाया है, ऐसी संभावना कि 15 अक्टूबर के बाद सही राज सरकार बहाली की प्रक्रिया शुरू करेगी। रिक्तियां के बारे में संबद्ध कॉलेजों और विश्वविद्यालयों से पूरा ब्यौरा आते ही किसी आयोग के जरिए बिहार सरकार लिखित परीक्षा के माध्यम से इन पदों पर बहाली करेगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.