Connect with us

NATIONAL

लेह में भारतीय जवानों ने फहराया विश्व का सबसे बड़ा 1400 किलो वजनी खादी तिरंगा, बनाने में लगे 49 दिन

Published

on

महात्मा गांधी की जयंती के मौके पर लद्दाख के लेह में खादी से बने हुए 225 फुट लंबा, 10 फुट चौड़ा और 1400 किलो वजन वाले दुनिया का सबसे बड़ा तिरंगा लहराया गया। राष्ट्रभक्ति से ओतप्रोत भारतीय सेना के रणबांकुरों ने इस विशाल तिरंगा को ले जाते हुए काफी उत्साहित दिख रहे हैं। 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद 150 भारतीय सेना के जवानों ने 2000 फीट की ऊंचाई तक राष्ट्रीय ध्वज को पहुंचाकर बेमिसाल साहस का परिचय दिया है।

बता दें कि बापू के जयंती पर फहराया गया विश्व का सबसे बड़ा तिरंगा को भारतीय सेना की 57 इंजीनियर रेजिमेंट के 150 जवानों ने 49 दिन में बनाकर तैयार किया है। लेह में खादी और गांव उद्योग कमीशन के अध्यक्ष विनय कुमार ने बताया कि विश्व का सबसे बड़ा झंडा खादी से निर्मित है। इसकी कुल लंबाई 225 फीट चौड़ाई, 150 फीट और वजन 1400 किलोग्राम है। यह तकरीबन 37500 स्क्वायर फीट जगह कवर करता है।

दुनिया के सबसे बड़े झंडे का उद्घाटन लद्दाख के उपराज्यपाल आरके माथुर ने किया। इस दौरान थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे भी उपस्थित रहे। पीएम नरेंद्र मोदी ने इसकी तारीफ की उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े तिरंगे का प्रदर्शन बापू के लिए एक अद्वितीय श्रद्धांजलि है। आत्मनिर्भर होने पर बल देते हुए पीएम मोदी ने हस्तशिल्प उत्पादों को अपनाने की बात कही।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.