Connect with us

MOTIVATIONAL

देश के रियल हीरो, पुणे के ये दोनों डॉक्टर लड़की जन्म लेने पर करते हैं नि:शुल्क सेवा, हो चुके हैं कई बार सम्मानित

Published

on

देश के ये दो रियल हीरो कर रहे हैं, लोगों की निशुल्क सेवा। जहां लड़की के जन्म लेने पर परिवार वालों की चेहरे की मुस्कान छिन जाती है, वैसे विपरीत हालात में यह दोनों डॉक्टर्स मरीजों की नि:शुल्क सेवा करते हैं। बिग बी अमिताभ बच्चन भी इनकी सराहना कर चुके हैं।‌ डॉ. गणेश राख और डॉ. प्रमोद लोहार दोनों डॉक्टर लोगों के लिए रियल हीरो है।

मेडिकेयर हॉस्पिटल, पुणे में जब भी महिला बच्चे को जन्म देती है, तो डॉक्टर गणेश राख उनकी सारी फीस माफ कर देते हैं। डॉक्टर राख बेटी के जन्म होने पर जश्न मनाते हैं, अस्पताल कर्मी मिठाई, फूल और मोमबत्तियों के साथ उनका स्वागत करते हैं। ‘बेटी बचाओ जन आंदोलन’ की शुरुआत डॉ. गणेश राख ने 3 जनवरी 2012 को थी। ‘बेटी बचाओ जन आंदोलन’ से अब तक 2 लाख से अधिक निजी डॉक्टर, 12 हजार गैर सरकारी संगठन और तकरीबन 18 लाख स्वयंसेवक इस मुहिम से जुड़ चुके हैैं।

इस अभियान के पांचवी बरसी पर बीबीसी ने अपने शो “अनसंग हीरोज़” में डॉ गणेश राख को सम्मानित किया था। स्टार प्लस चैनल के टीवी शो “आज की रात है जिंदगी में” सदी के महानायक अमिताभ बच्चन भी रियल हीरो बताकर इनकी तारीफ कर चुके हैं। अस्पताल के सर्जरी ओपीडी परामर्श शुल्क आदि का खर्चा किसी दूसरे से मदद लेकर होता है।

डॉ. गणेश राख और डॉ. प्रमोद लोहार देश के साथ विदेशों में भी इसकी जागरूकता फैला चुके हैं। फरवरी 2019 में जाम्बिया के लुसाका में एक रैली का आयोजन हुआ, जिसमें लोगों को भ्रूण हत्या रोकने व बालिकाओं को बचाने के लिए अभियान के कार्यकर्ताओं ने नाइजीरिया, युगांडा, केन्या और अफ्रीकी देशों में “सेव गर्ल चाइल्ड” की महत्ता को समझाने के लिए लोगों के बीच जागरूकता फैलाया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.